Important Notice | Demo Video Link

Current Stories

Date Details View Photos
24.03.2021 On 24.03.2021, Hon'ble Vice Chancellor Prof. Sangita Srivastava attended the All India Round Table Conference of Women Vice-Chancellors organized by Dr. Babasaheb Ambedkar Open University, Ahemdabad, Gujarat on the topic "Women leadership and challenges". At this conference women vice chancellors from all over the country came together. Dr Pankaj Mittal, Secretary General of Association of Indian Universities was the guest of honour. Dr. Pankaj Mittal is the second woman Secretary General for AIU. The conference was centred around the vision plan to support the girl child in rural areas so that they could develop in full potential.The lack of opportunities for the girl child means that her ability to develop to her full potential is always compromised. The ability of women to be able to listen, empathize and collaborate along with the ability to reach out in compassion create an atmosphere and environment that is completely different from a male dominated environment which is dominated by qualities of command, control, supervision, managerial structures and structures of power where achievement is the watchword for the individual instead of collaboration to achieve the potential as a group. It was felt that women can deliver more because of these inherent qualities to be able to work as a team if given a chance to tap their potential and work with the freedom to be able to create conducive environment.
23.03.2021 'क्रांति की उर्वर जमीन विचार ही तय करते हैं' -प्रो. हेरंब चतुर्वेदी
केंद्रीय सांस्कृतिक समिति, इलाहाबाद विश्वविद्यालय की ओर से "आजादी का संघर्ष और शहादत के मायने" विषय पर विशेष व्याख्यान मध्यकालीन एवं आधुनिक इतिहास विभाग, इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आयोजित किया गया। व्याख्यान की अध्यक्षता प्रो. हेरम्ब चतुर्वेदी जी ने की। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता प्रो.ललित जोशी रहे जबकि व्याख्यान की प्रस्तावना प्रो. संजय श्रीवास्तव ने रखी। कार्यक्रम के संयोजक केंद्रीय सांस्कृतिक समिति, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के अध्यक्ष प्रोफेसर संतोष भदौरिया रहे। कार्यक्रम का संचालन डॉ. विनम्रसेन सिंह ने किया।अतिथियों का स्वागत पल प्रो शबनम हमीद और डॉ. चितरंजन कुमार ने किया। व्याख्यान का स्वागत वक्तव्य इलाहाबाद विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग के प्रो.ए. आर. सिद्दीकी जी ने किया। कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन डॉ.ज्योति मिश्रा ने किया|
22.03.2021 स्त्री के संघर्ष और मुक्ति के रास्तों को अभिव्यक्त करती पोस्टर प्रदर्शनी का चौथा पड़ाव आज विधि संकाय में| विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों एवं संघटक महाविद्यालयों के विद्यार्थियों द्वारा निर्मित पोस्टरों की प्रदर्शनी अपने चौथे और अंतिम पड़ाव में कला, विज्ञान, वाणिज्य संकाय के बाद आज विधि संकाय में प्रदर्शित की गई। पितृसत्ता के अनेक रूपों को रूपायित करती यह प्रदर्शनी स्त्री के संघर्षों को भी बख़ूबी अभिव्यक्त करती है साथ ही स्त्रियों की उपलब्धियों को सामने लाती है। प्रदर्शनी का उद्धघाटन चीफ प्रॉक्टर प्रो. हर्ष कुमार ने किया ।इस अवसर पर विधि विभाग के डीन और अध्यक्ष प्रो. जयशंकर सिंह, केंद्रीय सांस्कृतिक समिति के अध्यक्ष प्रो. संतोष भदौरिया, प्रो. आर के चौबे ,डॉ. शेफाली नंदन, डॉ. चितरंजन कुमार,डॉ. विनम्रसेन सिंह,डॉ. मृत्युंजय राव परमार,सुश्री अनुश्री पांडेय,डॉ. विजयलक्ष्मी सिंह,श्री राजेश सिंह, सहित विभाग के शिक्षक एवं शोधार्थी उपस्थिति रहे। यह प्रदर्शनी 23 मार्च तक शोध छात्रों/ छात्राओं के अवलोकनार्थ उपलब्ध रहेगी। ।
17.03.2021 आज इलाहाबाद विश्वविद्यालय के गृह विज्ञान विभाग में सांस्कृतिक समिति द्वारा एक पोस्टर प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। छोटी सी जगह में भी जिस कुशलता से विभाग का निर्माण किया गया है वह काबिले तारीफ है। सांस्कृतिक समिति की तरफ से हम कार्यक्रम में आये समस्त शिक्षकों का हार्दिक आभार व्यक्त करते हैं ।
16.03.2021 दिनांक 16 मार्च 2021 को इलाहाबाद विश्वविद्यालय के तिलक भवन में समस्त गैर शैक्षणिक कर्मचारियों के लिए एक वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इस वर्कशॉप को काशी हिंदू विश्वविद्यालय के डिप्टी रजिस्ट्रार डॉ एस पी ध्यानी ने संबोधित किया। डॉ ध्यानी ने अपने अनुभवों को साझा करते हुए कहा कि किसी विश्वविद्यालय के लिए शैक्षणिक कर्मचारी जितने आवश्यक हैं उतने ही आवश्यक गैर शैक्षणिक कर्मचारी भी हैं। उन्होंने पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन द्वारा विस्तार से बताया कि किसी फ़ाइल पर नोटिंग कैसे करें, आर टी आई का जवाब कैसे दें, नियुक्ति हेतु रोस्टर का निर्धारण कैसे करें, मीटिंग का एजेंडा कैसे तैयार करें, विश्वविद्यालय के गोपनीय दस्तावेजों का निस्तारण कैसे करें। डॉ ध्यानी ने केंद्रीय विश्वविद्यालयों के कर्मचारियों हेतु भारत सरकार द्वारा जारी निर्देशों पर भी विस्तार से चर्चा की।
12.03.2021 सांस्कृतिक समिति इलाहाबाद विश्वविद्यालय के तत्वावधान में आज वाणिज्य संकाय में महिला मुद्दों और अधिकारों से जुड़े विषय पर एक पोस्टर प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। 8 मार्च 2021 को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर कुलपति प्रो संगीता श्रीवास्तव ने जिस समारोह का उद्धघाटन किया था, आज उसका समापन दिवस था। साथ ही आज ऑनलाइन समापन कार्यक्रम में JNU की प्रो गरिमा श्रीवास्तव ने महिला मुद्दों पर समापन वक्तव्य दिया। वाणिज्य संकाय में आयोजित पोस्टर प्रदर्शनी का उद्घाटन वाणिज्य संकाय अध्यक्ष प्रोफेसर असीम मुखर्जी द्वारा किया गया। पोस्टर प्रदर्शनी के पश्चात उत्तर प्रदेश शासन और कुलसचिव इलाहाबाद विश्वविद्यालय के निर्देश पर "आजादी के 75 वर्ष" पर अमृत महोत्सव का भी आयोजन किया गया। वाणिज्य संकाय के राज शेखर सभागार में आयोजित अमृत महोत्सव समारोह में प्रोफेसर आशीष सक्सेना ने बीज वक्तव्य दिया। प्रो ए के मालवीय ने स्वागत व्यक्त्व दिया। डॉ चित्तरंजन कुमार ने कार्यक्रम का संचालन किया तथा डॉ शेफाली नंदन ने धन्यवाद ज्ञापन दिया। इस दौरान वाणिज्य संकाय और सांस्कृतिक समिति के सदस्य मौजदू रहें।
10.03.2021 अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित कार्यक्रम की श्रृंखला में आज का कार्यक्रम राजनीति शास्त्र विभाग में सम्पन्न हुआ । महिला अध्ययन केंद्र और सी कैश का विशेष आभार । सांस्कृतिक समिति की तरफ से आज कार्यक्रम में आये समस्त शिक्षकों और श्रोताओं को आभार|
24.02.2021 Prof. Sangita Srivastava, Hon'ble Vice Chancellor, UoA and Dr. Neetu Mishra, HoD, Department of Home Science with a kit of sanitary napkins. 200 kits will be distributed among the Tribal women of Rewa district, under the DST NASI project on "Health, Hygiene & Sanitation".
24.02.2021 माननीया कुलपति महोदया प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव जी ने नई दिल्ली में हुई गणतंत्र दिवस परेड शिविर 2021 में शामिल हुए राष्ट्रीय सेवा योजना इलाहाबाद विश्वविद्यालय के स्वयंसेवक कु अदिति (जगत तारण महिला महाविद्यालय) व राजगुरु सिंह (ईश्वर शरण महाविद्यालय) से भेंट की तथा उनकी सफलता पर उन्हें बधाई देते हुए उनके उज्वल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर राष्ट्रीय सेवा योजना इलाहाबाद विश्वविद्यालय की कार्यक्रम समन्वयक डॉ मंजू सिंह भी मौजूद रहीं।
24.02.2021 On 24.02.2021, Hon’ble Vice chancellor Prof Sangita Srivastava released UGC-SAP Annual News Letter 2021 and current issue of Departmental Journal “Researches and Studies” of Department of Education, University of Allahabad. Prof. Heramb Chaturvedi, Dean, Faculty of Arts, Prof Dhananjai Yadav, Head, Department of Education and all faculty members were present on this occasion.