Exam schedule for second exam of MCA, BCA, and PGDCA | Information regarding Exam/Results 2020-21

Holi Message from Hon'ble Vice-Chancellor

यह मिट्टी की चतुराई है,
रूप अलग औष् रंग अलग,
भावए विचारए तरंग अलग हैं,
ढाल अलग है ढंग अलग

आजादी है जिसको चाहो आज उसे वर लो
होली है तो आज अपरिचित से परिचय कर को!

निकट हुए तो बनो निकटतर
और निकटतम भी जाओ,
रूढ़ि.रीति के और नीति के
शासन से मत घबराओ,

आज नहीं बरजेगा कोईए मनचाही कर लो।
होली है तो आज मित्र को पलकों में धर लो!

प्रेम चिरंतन मूल जगत का,
वैर.घृणा भूलें क्षण की,
भूल.चूक लेनी.देनी में
सदा सफलता जीवन की,

जो हो गया बिराना उसको फिर अपना कर लो।
होली है तो आज शत्रु को बाहों में भर लो!

होली है तो आज अपरिचित से परिचय कर लो,
होली है तो आज मित्र को पलकों में धर लो,
भूल शूल से भरे वर्ष के वैर.विरोधों को,
होली है तो आज शत्रु को बाहों में भर लो !

- हरिवंश राय बच्चन


img img img